कानपुर में हुआ पुलिसकर्मियों पर हमला 8 शहीदों ने गवाई जान। कानपुर एनकाउंटर पर बोले योगी आदित्यनाथ। कानपुर एनकाउंटर।Kanpur News

Daily Hindi Education:चौबेपुर के बिकरू  गांव में दबिश देने गई थी पुलिस टीम। विकास दुबे ने घर के रास्ते में JCB लगाकर पुलिसकर्मियों पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी जिसमें 8 पुलिसकर्मियों ने गवाई  अपनी जान और सात पुलिसकर्मी हुए घायल।

Kanpur enscounter News  : कानपुर के चौबेपुर थाना क्षेत्र के बिकरू  गांव में विकास दुबे के घर दबिश देने गई थी ।पुलिस लेकिन विकास दुबे को पुलिस की खबर मिलते ही उसने अपने घर का रास्ता JCB से रोक दिया।
JCB।Kanpur News।Free photos of JCB।Kanpur JCB।Today News।Kanpur News।Enscounter Kanpur।Kanpur enscounter।Vikas Dube.
वह JCB जिसे विकास दुबे ने घर का रास्ता रोकने के लिए प्रयोग किया था।


पुलिस के वहां पहुंचते ही विकास दुबे ने अपनी टीम के साथ  अपने घर की छत से पुलिस पर फायरिंग करना शुरू कर दी । जिसमें 8 पुलिसकर्मि शहीद हो गए। बताया जा रहा है कि विकास दुबे ने पुलिसकर्मियों पर AK- 47 Gun  से हमला किया था।
पुलिस टीम अपनी दो गाड़ियों के साथ विकास दुबे के घर दबिश देने के लिए गई थी। परंतु विकास दुबे को खबर मिलते ही उसने रास्ता रोक दिया और अपनी टीम के साथ अंधाधुंध फायरिंग करना शुरू कर दी।
                             शहीद हुए पुलिसकर्मी
शहीद होने वाली पुलिसकर्मियों में बिल्हौर के CO  समेत आठ पुलिसकर्मी शामिल थे और बिठूर के SO समेत 6 पुलिसकर्मी घायल हैं।
घायल होने वाले पुलिसकर्मियों में से एक पुलिस वाला बहुत ज्यादा गंभीर है। घायल हुए पुलिसकर्मियों को रीजेन्सी  अस्पताल मैं भर्ती किया गया है और डॉक्टरों को अच्छी देखभाल के लिए निर्देश दिए गए हैं।

अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ताबड़तोड़ दबिश दे रही है। लखनऊ से फॉरेंसिक वालों की टीम भी कानपुर आ रही है। और अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए एसटीएएफई   कि टीमें अपराधियों को ढूंढने के लिए जुट गई है। उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक हितेश चंद्र अवस्थी ने विकास दुबे को बहुत शातिर अपराधी बताया है। 
Vikas Dube photos।विकास दुबे के फोटो।Photos of Vikas dube।Free Photos।Download free photos।Kanpur enscounter।Kanpur news।Today news।Enscounter photos.
Photo of criminal Vikas Dube 

जिसके खिलाफ पहले ही 60 मुकदमें दर्ज हो चुके हैं। 2001 में विकास दुबे ने पुलिस थाने में घुसकर बीजेपी नेता संतोष शुक्ला की हत्या कर दी और उसके साथ कई लोगों को भी मार दिया। परंतु उस मुकदमे से वह किसी तरह बरी हो निकला पुलिस महानिदेशक हितेश चंद्र अवस्थी ने बताया कि कुछ समय पहले इस पर 307 (हत्या का प्रयास) का मुकदमा दर्ज हुआ था। पुलिस टीम इसकी दबिश के लिए विकास दुबे के घर गई थी लेकिन विकास दुबे ने अपनी टीम के साथ पुलिस पर अपनी छत से बुरी तरह फायरिंग करना शुरू कर दी हितेश चंद्र अवस्थी ने बताया कि पुलिस ने भी अपराधियों पर पलटवार किया लेकिन निचले स्तर पर होने के कारण पुलिस अपराधियों को गोली नहीं मार पाई और पुलिस के 8 नौजवान शहीद हो गए

Post a comment

0 Comments